Sunday, 1 June 2014

उस चेहऱे मे कुछ था एेसा,कि दिल ने कहा....य़ही है वो.....

उस आवाज मे ऐसी थी खनक,कि दिल ने कहा....यही है वो.....

रूह से निकली यह सदा,तू मिल गया है मुझे एक अरसे के बाद...

दुनिय़ा ना पहचाने,मगऱ मेरी रूह ने कहा....यही है वो......

 भोले भाले वो नैना..उस के दिल के आर-पार हो गए..वो भोले थे इसलिए ही तो उस की खास पसंद बन  गए..जब वो झुकते तो दिल उस का चीर जाते..जो उठते तो उ...