Sunday, 29 April 2018

हर बात को हवा मे उड़ा देना,तेरे बताए रास्ते पे चलने की हिम्मत रखना....कब से अपनी आदत मे शुमार

कर लिया हम ने ....खुल के हर बात पे हंस देना,किसी ने क्या कहा,और हम ने क्या सुना....सोच से भी

परे नकार दिया हम ने....डर के जीना भी कोई जीना है,दुनिया से मिले तो यह खास राज़ उन्ही से जाना

हम ने...तेरी कही हर बात आज सही वक़्त पे,सही तरीके से सामने आई है....तेरे उसी वादे से बंधे हर उस

धर्म को निभाए गे,जो मेरे तेरे रिश्ते के नाम से ऐसी धर्म से टकराए गे .....